Vikas Kharadi@vikas_kharadi

जीवन बाँसुरी की तरह है,
जिसमे बाधाओं रूपी कितने भी
छेद क्यूँ न हो,
लेकिन जिसको उसे बजाना आ गया,
उसे जीवन जीना आ गया !!


0


0


1


1


0


0


0


0


0


0


0


1

The end of the page